अधिकारों को लेकर उमड़ा सहरियाओं का सैलाब

0
157

26-2-10-2डॉ. राम मनोहर लोहिया जन्म शताब्दी समारोह के अन्तर्गत आज सहरिया जनजाति के लोग पूरे जिले के दूर-दराज क्षेत्रों से अपनी मांगों को पूरा कराने के लिये हजारों की संया में स्थानीय तुवन मन्दिर प्रांगण में आए। जहां सहरिया जनजाति तथा सामाजिक राजनैतिक कार्यकर्ताओं ने एक सभा को सबोधित किया। सहरियाओं के उत्थान के लिये वर्षों से लगे समाजवादी विचारक मुरारी लाल जैन ने कहा कि ललितपुर जिला में सहरिया जनजाति के आदिवासियों को उनके संवैधानिक और कानूनी अधिकारों से लगातार वंचित किया जा रहा है तथा 1 लाख की आबादी पंचायतों में आरक्षण से वंचित है तथा माननीय सर्वोच्च न्यायालय और सरकार द्वारा दिये गए दिशानिर्देशों तथा विधान मण्डल द्वारा पारित कानूनों से दिये गए अधिकार भी उन्हें प्रदत्त नहीं किये गए हैं। जनपद में विभिन्न समेलनों तथा ज्ञापनों के माध्यम से इन अधिकारों को पूरा करने हेतु सहरिया जनजाति के विभिन्न समेलनांे के द्वारा इनकी मांग को पूरा करने को कहा जा रहा है, परन्तु कोई भी कार्यवाही अभी तक नहीं हुई। वहीं प्रधानमन्त्री व भारत सरकार व उत्तर प्रदेश की मुयमन्त्री को 10 सूत्रीय ज्ञापन भेजकर तत्काल प्रभाव से कार्यवाही करने की मांग की है। वक्ताओं ने कहा कि सहरिया आदिवासियों द्वारा किये जा रहे आन्दोलन के उपरान्त सहरियाओं के शोषण में लगे निहित स्वार्थी तत्व पूर्व सामन्तवादी मानसिकता के अपराधी लोग तथा उनसे जुड़े कुछ वनकर्मी बोखलाकर षड़यन्त्रपूर्वक शान्तिपूर्ण आदिवासियों पर हमला कर रहे हैं तथा उन्हें अहिंसात्मक आन्दोलन के मार्ग से हटाने का प्रयास कर रहे हैं। ग्राम महोली में भ् फरवरी व 17 फरवरी को सहरियाओं के बीच अधिकारियों का हुआ टकराव इसी षड़यन्त्र का नतीजा है। वक्ताओं ने जांच करवाकर उचित कार्यवाही की मांग की है। सभा के उपरान्त हजारों की संया में शान्तिपूर्वक तरीके से सहरियाओं का जन सैलाब जलूस की शक्ल में शहर के मुय मागोZ से होते हुये जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचा, जहां जिलाधिकारी के उपस्थित न होने से उपजिलाधिकारी पी.के. श्रीवास्तव को ज्ञापन देकर अगि्रम कार्यवाही का अनुरोध किया है।

सुरेन्द्र अग्निहोत्री
मो0 9415508695
upnewslive.com

NO COMMENTS