अधिकारी-कर्मचारी अपनी जिम्मेदारियों का बखूबी करे निर्वहन : प्रेक्षक

0
233

ललितपुर। नवीन गल्ला मण्डी परिसर में चल रहे ईवीएम प्रशिक्षण के दौरान भारत निर्वाचन आयोग द्वारा नियुक्त किये गए प्रेक्षक मोहन प्यारे ने सम्बोधन कर अधिकारी कर्मचारियों से निष्पक्ष, शातिपूर्ण, पारदर्शिता व सकुशल तरीके से लोकसभा चुनाव सम्पन्न कराने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि जहा किसी भी प्रकार की गड़बड़ी मिलेगी वहा पुन: मतदान कराया जाएगा। गड़बड़ी पाए जाने पर सम्बंधित के खिलाफ कठोर व अनुशासनात्मक कार्यवाही होगी। उन्होंने आयोग द्वारा जारी दिशा निर्देशों का हवाला देकर अधिकारी, कर्मचारियों से पूरा ध्यान केन्द्रित कर भलीभाति प्रशिक्षण लेने की अपील की।

चुनाव ड्यूटी में लगे अधिकारी, कर्मचारियों को सम्बोधित करते हुए प्रेक्षक ने कहा कि ऐसे कई होंगे जिन्होंने इससे पूर्व भी चुनाव में अपनी ड्यूटी निभायी होगी। वह अपने पूर्व अनुभवों का सदुपयोग करते हुए आगामी कार्य को सम्पन्न कराने में ध्यान केन्द्रित करे। जिनके लिये यह चुनाव नया है वह प्रत्येक जानकारी को बारीकी से सीखें। कहीं कोई कमी नहीं रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस महाकुम्भ में सभी अपने कर्तव्यों एवं जिम्मेदारियों का निर्वहन करे। इस दौरान जिला निर्वाचन अधिकारी पवन कुमार ने भी उदगार व्यक्त करते हुए कहा कि उनके स्तर से अधिकारी, कर्मचारियों को हर सम्भव सहयोग दिया जाएगा। उन्होंने यह भी बताया कि मतदान के दिन पीठासीन अधिकारी पोलिंग स्टेशन के अंदर मोबाइल ले जा सकेंगे लेकिन वह अपने मोबाइलों को स्विच ऑफ मोड में रखेंगे तथा जब सेक्टर मजिस्ट्रेट से किसी आवश्यक बात करनी हो तभी मोबाइल ऑन किया जाएगा। सहायक प्रभारी अधिकारी अरविंद कुमार पाण्डे ने भी मतदान से जुड़ीं विभिन्न जानकारिया दीं। इस दौरान बताया गया कि प्रथम मतदान अधिकारी चिह्नित मतदाता सूची का प्रभारी होता है, जिससे मतदाताओं की पहचान की जाती है। द्वितीय मतदान अधिकारी अमिट स्याही, मतदाताओं का रजिस्टर एवं शासकीय मतदाता पहचान पत्र का प्रभारी होता है। यदि किसी मतदाता के बाये हाथ की तरजनी न हो तो दाहिने हाथ की तरजनी में स्याही लगायी जाएगी। दाहिने हाथ में यदि तर्जनी न हो तो बाये हाथ की मध्यमा से शुरू करते हुए जो भी उगली हो उस पर अमिट स्याही लगायी जाएगी। द्वितीय मतदान अधिकारी रजिस्टर 17 ग में मतदाता की संख्या अंकित करने के साथ-साथ उसका हस्ताक्षर अथवा अंगूठे की निशानी लेगा। यदि मतदाता की कोई उगली न हो तो सहयोगी के हस्ताक्षर अथवा अंगूठा का निशान लिया जाएगा और प्रारूप 14 क में उस मतदाता के सहयोगी का शपथ लिया जाएगा।

बैठक में ईवीएम प्रशिक्षण के सम्बंध में विस्तृत जानकारिया दी गई तथा यह भी कहा गया कि मतदान प्रारम्भ होने के पूर्व दिखावटी मतदान कराया जाएगा। इसमें सभी उम्मीदवारों को मत देकर मतदान एजेण्ट के समक्ष ईवीएम से मतदान प्रक्रिया का प्रदर्शन किया जाएगा। दिखावटी मतदान के पश्चात मशीन को क्लोज और क्लीयर बटन दबा कर सील कर दिया जाएगा। इसके उपरात मतदान सम्पन्न होगा। बैठक से पूर्व प्रेक्षक ने जिले के सम्वेदनशील रोंड़ा, नदनवारा, लखनपुरा आदि बूथों का निरीक्षण किया तथा आवश्यक दिशा निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि निर्भय वातावरण में मतदान की प्रक्रिया होगी। निर्वाचन कार्य से जुडे़ अधिकारी घूम-घूम कर व्यवस्थाओं का अवलोकन करते रहे। उन्होंने ग्रामीणों से भी बात की तथा पूछा कि ईवीएम के सम्बंध में जानकारी दी गई कि नहीं। उन्होंने कहा कि ग्रामीण बगैर किसी दबाव के मतदान करे। भारत निर्वाचन आयोग साफ सुथरा मतदान चाहता है। उन्होंने बताया कि यदि किसी को निर्वाचन से सम्बंधित कोई समस्या है अथवा वार्ता करना है तो वह लोक निर्माण विभाग के कक्ष संख्या 1 में आकर उनसे मुलाकात कर सकता है तथा गड़बड़ी की सूचना निरीक्षण गृह का फोन नम्बर 05176-276465, मो. 9450706678 एवं 9198954448 दी जा सकती है। इस अवसर पर सभी अधिकारी मौजूद थे